हाजरी तो लेल्यो

बालकां की छोड्यो हरियाणा के तो मास्टर भी कसुत होरे स।।

मास्टर- चलो बालकों पढ़णा शुरू करो।
बालक- मास्टर जी हाजरी तो लेल्यो।
मास्टर- हाजरी ने के थम आड़े मनरेगा की दिहाड़ी पे आरे हो !

Facebook Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *